ALL political social Entertainment health tourism crime religious Sports National Other State
वैज्ञानिकों से सर्वे व रिपोर्ट के आधार पर ही सिंचाई विभाग प्राकलन बनाए
June 4, 2020 • Geeta Bisht & Dr. Naresh Kumar Choubey • social

रुद्रप्रयाग 02 जून 2020

जनपद में नदियों के पुनरुद्धार व सुधारीकरण में भूगर्भ  तकनीकी संस्था से कराया जाय सर्वे। जल संरक्षण व सम्वर्द्धन व वृक्षारोपण की बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी वंदना ने कहा कि नदियों के पुनरुद्धार हेतु गोविंद वल्लभ पंत या वाडिया भू गर्भ वैज्ञानिक संस्था के वैज्ञानिकों से सर्वे व रिपोर्ट के आधार पर ही सिंचाई विभाग प्राकलन बनाए। प्राकलन में कार्यों का समय निर्धारित कर कार्य शुरू किया जाए। जल संरक्षण कार्यों के लिये जनपद के पुराने स्त्रोतों का पौराणिक विधि से सुधारीकरण के मॉडल विकसित करने, पोषण वाटिका को भी मनरेगा योजना के अंतरगत स्थापित किया जायेगा जिसमे की ग्राम स्तर पर पोषण वाटिका बनने से जो पोषण सम्बंधित समस्या होती हैं उसे कुछ कम किया जा सके।
वर्तमान वर्ष में हरेला दिवस के अवसर पर चारा विकास नर्सरी को बड़े पैमाने पर विकसित करना होगा। इसके लिये जिन विभागों द्वारा वृक्षारोपण किया जाना है वे वृक्षारोपण स्थल की सूची मुख्यविकास अधिकारी को उपलब्ध कराने के निर्देश दिए जिससे एक स्थल पर एक ही विभाग करे व कार्यों की डुप्लीकेसी न हो। नमामि गंगे योजना के अंतरगत चोपडा, धारकोट, क्वीली, कुरझन में 16.5 लाख की योजना को जीओ हाइड्रोलॉजी के अनुसार मैपिंग की जाय व उसके पश्चात  जल श्रोतो की कुल संख्याओं की जानकारी ली जाय। इस अवसर पर मुख्यविकास अधिकारी मनविंदर,ऐ पी डी रमेश कुमार,  पी ई एम एस नेगी, एस डी ओ महिपाल सिंह सिरोही, रिलायंस फाउंडेशन प्रकाश सिंह सहित ने अधिकारी उपस्थित थे।