ALL political social Entertainment health tourism crime religious Sports National Other State
शाहीन बाग के सभी मतदान केंद्र अति संवेदनशील की श्रेणी में
February 6, 2020 • Geeta Bisht & Dr. Naresh Kumar Choubey • social

नई दिल्ली, । दिल्ली के शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाप प्रदर्शन जारी है। ऐसे में चुनाव आयोग ने शाहीन बाग के लोगों को आठ फरवरी को मतदान करने के लिए जागरुक कर रहा है। चुनाव आयोग शाहीन बाग में चल रहे विरोध प्रदर्शन को देखते हुए सभी पांच मतदान केंद्रों को अति संवेदनशील की श्रेणी में रखा है।

शाहीन बाग के पास पांच मतदान केंद्रों पर 40 बूथ हैं। इन सभी को अति संवेदनशील घोषित किया गया है। इसलिए इन केंद्रों पर अतिरिक्त अर्धसैनिक बल तैनात रहेगी।

सर्विलांस रूप से संवेदनशील बुथों पर रखी जाएगी नजर

सभी अति संवेदनशील बूथों पर वेबकास्ट की व्यवस्था होगी। इसके मद्देनजर सीईओ कार्यालय में सर्विलांस रूम बनाया गया है। इस सर्विलांस रूम से मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय के अधिकारी शाहीन बाग के मतदान केंद्रों सहित सभी अति संवेदनशील बूथों पर लगतार नजर बनाए रखेंगे।

शाहीन बाग में चुनाव अधिकारियों के लिए रास्ते की दिक्कत नहीं

सीईओ डॉ. रणबीर सिंह ने कहा कि उन्होंने शाहीन बाग इलाके का निरीक्षण किया था। चुनावी ड्यूटी में लगे अधिकारियों व मतदाताओं के मतदान केंद्रों पर पहुंचने के लिए रास्त की कोई समस्या नहीं है। दिल्ली पुलिस के विशेष आयुक्त प्रवीर रंजन ने कहा कि चुनाव प्रचार के दौरान पूरी दिल्ली में प्रतिदिन 400-500 कार्यक्रम हुए। बड़ी-बड़ी रैलियां व जनसभाएं हुईं। शाहीन बाग की दो घंटनाओं को छोड़कर कहीं कोई घटना नहीं हुई। पुलिस रात के वक्त भी मुस्तैदी से गस्त कर रही है। उन्होंने कहा कि मतदान भी शांतिपूर्ण होगा।  

सुबह चार बजे से चलेगी मेट्रो

वैसे तो मतदान केंद्रों पर चुनावी ड्रयूटी में लगे अधिकारी एक दिन पहले पहुंच जाएंगे। विशेष परिस्थिति में महिला अधिकारियों को इससे राहत देने की व्यवस्था भी है। इसके मद्देनजर सीईओ कार्यालय ने सुबह चार बजे मेट्रो व डीटीसी बसों का परिचालन सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है।

अर्धसैनिक बलों की 190 कंपनियां तैनात

दिल्ली में मतदान केंद्रों पर सुरक्षा के लिए 42 हजार दिल्ली पुलिस के जवान व 19 हजार होम गार्ड तैनात होंगे। इस बार अर्धसैनिक बलों की 190 कंपनियां बुलाई गई हैं। पिछले लोकसभा चुनाव में 47 कंपनियां तैनात की गई थीं। इस तरह इस बार अधैसैनिक बलों की 143 कंपनियां अतिरिक्त बुलाई गई हैं। अर्धसैनिक बलों की इन कंपनियों को फिलहाल  शाहीन बाग सहित संवेदशील इलाकों में पेट्रोलिंग के लिए तैनात किया गया है। कुल मिलाकर चुनाव में करीब ढ़ाई लाख कर्मचारी तैनात रहेंगे। संवेदनशीन बूथों पर अर्धसैनिक बल के  जवान तैनात किए जाएंगे।