ALL political social Entertainment health tourism crime religious Sports National Other State
क्या उमर खालिद ने भड़काई थी दिल्ली हिंसा, ट्रंप के दौरे के वक्त सड़क पर उतरने की अपील वाला वीडियो वायरल
March 2, 2020 • Geeta Bisht & Dr. Naresh Kumar Choubey • crime

दिल्‍ली । अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप की भारत यात्रा के दौरान राजधानी दिल्‍ली में भड़की हिंसा में अब तक 42 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है। इस हिंसा के लिए जहां शक की सूई पार्षद ताहिर हुसैन पर टिकी है और दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा की एसआईटी जांच भी कर रही है। वहीं अब इसमें एक और नाम जुड़ गया है। देशद्रोह मामले में आरोपी जेएनयू छात्र उमर खालिद का एक विडियो वायरल हो गया है जिसमें वह ट्रंप के आने पर लोगों से सड़क पर उतरने की अपील कर रहे हैं।

 
इस वीडियो में उमर खालिद ये कहते हुए दिखाई दे रहे हैं कि हम वादा करते हैं 24 तारीख को जब डोनाल्ड ट्रंप हिन्दुस्तान आएंगे तो हम ये बातएंगे  कि हिन्दुस्तान के प्रधानमंत्री और हिन्दुस्तान की सरकार हिन्दुस्तान को बांटने का काम कर रही है। महात्मा गांधी के उसूलों की धज्जियां उड़ाई जा रही है। हम ये बताएंगे कि हिन्दुस्तान आवाम हिन्दुस्तान के हुक्मरानों के खिलाफ लड़ रही है। ये देश को बांटना चाहते हैं तो हिन्दुस्तान की आवाम देश को जोड़ने के लिए तैयार है। हम तमाम लोग सड़कों पर उतर आएंगे, आप लोग निकल कर आएंगे बहुत-बहुत शुक्रिया जाते-जाते बस एक बात कहूंगा, ये लड़ाई लंबी है, 50 दिन से हम लड़े हैं, मायूस न होना। ये वीडियो 17 फरवरी 2020 को अमरावती का बताया जा रहा है।
 
इस विडियो के सामने आने के बाद अब उमर खालिद दिल्ली पुलिस के निशाने पर आ सकते हैं। बता दें कि वीडियो को बीजेपी के मीडिया सेल के हेड अमित मालवीय ने ट्वीट किया है और लिखा है कि पहले से ही देशद्रोह के आरोपों का सामना कर उमर खालिद ने 17 फरवरी को अमरावती में एक भाषण दिया, जहां वह 24 तारीख को ट्रम्प के भारत आने पर भारी संख्या में मुस्लिमों को सड़कों पर आने के लिए प्रेरित कर रहे हैं। मालवीय ने दिल्ली हिंसा के पीछे टुकड़े-टुकडे गैंग का हाथ होने की आशंका जताई है। गौरतलब है कि 23-24 तारीख को दिल्ली में हुई हिंसा में 42 से ज्यादा लोगों की जान चली गई है तो करीब 250 लोग अस्पतालों में भर्ती हैं। इस हिंसा में हजारों वाहन फूंक दिए गए, सैकड़ों मकान जले और दुकानें लूट ली गईं।