ALL political social Entertainment health tourism crime religious Sports National Other State
क्या शिवसेना ने पहन रखी है चूड़ियां? : फडणवीस
February 26, 2020 • Geeta Bisht & Dr. Naresh Kumar Choubey • political

मुंबई। एआईएमआईएम नेता वारिस पठान की साम्प्रदायिक टिप्पणी पर शिवसेना की ‘‘चुप्पी’’ पर सवाल उठाते हुए वरिष्ठ भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली पार्टी ने चूड़ियां पहन रखी होगी लेकिन भाजपा इस मुद्दे पर चुप नहीं बैठेगी। दक्षिण मुंबई में मंगलवार को आजाद मैदान में हुई एक रैली में फड़णवीस ने कहा कि वह यह समझ नहीं पा रहे है कि शिवसेना के नेतृत्व वाली सत्तारूढ़ महा विकास अघाड़ी (एमवीए) सरकार के सामने क्या हो रहा है। उन्होंने कहा, ‘‘कुछ वारिस या ‘लावारिस’ उठते हैं और कहते हैं कि 15 करोड़ लोग 100 करोड़ पर भारी हैं। वारिस या ‘लावारिस’ कौन है जो कहता है कि 15 करोड़ लोग 100 करोड़ पर भारी हैं। हमारा हिंदू समुदाय सहिष्णु है और इसलिए भारत सभी को साथ लेकर चलता है।’’

 
फड़णवीस ने कहा कि भाजपा को अल्पसंख्यकों पर भी गर्व है लेकिन वह किसी ‘‘लावारिस को नहीं छोड़ेगी अगर वह अपनी कमजोरी के लिए हिंदू समुदाय की सहिष्णुता की परीक्षा लेता है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘शिवसेना ने इस मुद्दे पर चूड़ियां पहन रखी होगी। यहां तक कि हमारी महिलाएं ‘चूड़ियां पहनना’ कहावत को पसंद नहीं करती लेकिन मैं इस कहावत का इस्तेमाल करूंगा। शिवसेना ने इस मुद्दे पर चुप्पी साध रखी होगी लेकिन हम चुप नहीं बैठेंगे।’’ फड़णवीस ने कहा कि भाजपा के पास एक समुदाय को दूसरे के खिलाफ खड़ा करने वाले बयान देने वालों को मुंहतोड़ जवाब देने की ताकत है।
 
 
उत्तर कर्नाटक के कलबुर्गी में 16 फरवरी को संशोधित नागरिकता कानून विरोधी रैली को संबोधित करते हुए मुंबई से एआईएमआईएम के पूर्व विधायक पठान ने कथित तौर पर कहा था, ‘‘हमें एक साथ मिलकर आगे बढ़ना होगा। हमें आजादी लेनी होगी, जो चीजें मांगकर नहीं मिलती उसे छीनना पड़ता है, याद रखिए...हम 15 करोड़ हो सकते है लेकिन 100 करोड़ पर भारी हैं।’’ पूर्व मुख्यमंत्री की ‘‘चूड़ियों’’ वाली टिप्पणी पर प्रतिक्रिया करते हुए पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे ने उनसे माफी की मांग की। ठाकरे ने बुधवार को ट्वीट किया, ‘‘श्री देवेंद्र फड़णवीस जी आमतौर पर मैं पलट कर टिप्पणी करना पसंद नहीं करता। कृपया चूड़ियां की टिप्पणियों के लिए माफी मांगे : सबसे मजबूत महिलाएं चूड़ियां पहनती हैं। राजनीति अपनी जगह है लेकिन हमें इस विमर्श को बदलने की जरूरत है।’’