ALL political social Entertainment health tourism crime religious Sports National Other State
जिलाधिकारी द्वारा समस्त 45 प्रशिक्षुओं को प्रशस्ति पत्र व एल ई डी एमरजेंसी लाइट देकर सम्मानित किया गया।
February 21, 2020 • Geeta Bisht & Dr. Naresh Kumar Choubey • social

रूद्रप्रयाग 20 फरवरी, 2020 (सू0वि0)
जनपद में महिलाओं एंव बेरोजगार युवकों के स्वरोजगार सृजन हेतु चल रहे पाँच दिवसीय एल.ई.डी. ग्राम लाईट प्रशिक्षण कार्यक्रम के समापन पर जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल द्वारा सभी 45  प्रशिणार्थियों को  प्रशिक्षण के महत्व से अवगत कराते हुए उन्हें स्वरोजगार सृजन हेतु प्रोत्साहित किया गया। उन्होंने प्रशिक्षुओं को बैंकिंग, उद्यमिता विकास बिजनेस प्लान के साथ ही आत्मनिर्भर बनने पर जोर दिया। इस अवसर पर जिलाधिकारी द्वारा समस्त 45 प्रशिक्षुओं को प्रशस्ति पत्र व एल ई डी एमरजेंसी लाइट देकर सम्मानित किया गया।
समापन अवसर पर प्रशिक्षुओं द्वारा सोलर लालटेन, टयूब लाइट, झालर, एमरजेंसी लाइट आदि तैयार सामग्री की प्रशंसा करते हुये जिलाधिकारी ने कहा कि यह अति सुंदर व किफायती है। जिला प्रशासन द्वारा इन लाइट के लिये मार्किट उपलब्ध कराया जाएगा। जिला प्रशासन द्वारा राष्ट्रीय पर्व पर ग्रामीणों द्वारा उत्पादित झालर लाइट से सरकारी भवनों को प्रकाशमान किया जाएगा। इसके साथ ही केदारनाथ मंदिर के प्रतीक का सौंदर्यीकरण भी इसी झालर लाइट से किया जाएगा। इसके साथ ही इन उत्पादों को यात्रा रूट पर भी बिक्री के लिए रखा जाएगा जिससे लोगो की आर्थिकी मजबूत हो ।
उरेडा विभाग के परियोजना अधिकारी संदीप सैनी ने बताया कि प्रथम चरण में रतूड़ा में महिलाओं द्वारा विभिन्न प्रकार की लाइट बनाने का कार्य किया जाएगा। लाइट बनाने के लिये प्रयुक्त सामग्री को विभाग द्वारा उपलब्ध कराया जाएगा व हर स्तर पर सहयोग दिया जाएगा।  समापन अवसर पर निदेशक आरसेटी दिनेश चंद्र नेगी, ऐ पी डी रमेश कुमार, एल डी एम एस के शर्मा, बबीता रावत, वीरेंद्र बर्त्वाल सहित अन्य लोग मौजूद थे।