ALL political social Entertainment health tourism crime religious Sports National Other State
हुनर हाट का जुगाड़, मिलेगा लाखों को रोजगार
February 20, 2020 • Geeta Bisht & Dr. Naresh Kumar Choubey • political

एल.एस.न्यूज नेटवर्क नई दिल्ली।दिल्ली के इंडिया गेट में आयोजित हुनर हाट इन दिनों लाखों छोटे-मोटे कारोबारियों व स्ट्रीट वेंडर्स के लिए पैसे कमाने व रोजगार में आ रही तंगी से निपटने का जरिया बन चुका है, आपको बता दें मोदी सरकार के द्वारा 'एक भारत श्रेष्ठ भारत' बनाने के लक्ष्य तले हुनर हाट जैसे "मौका मार्केट" मेले विभिन्न शहरों में आयोजित किए जा रहे हैं, इस हुनर हाट के जरिए अल्पसंख्यक समुदाय को भी सुदृढ़ बनाने की योजना के साथ-साथ उन्हें अपने हुनर की आजमाइश करने का मौका दिया जा रहा है।

 
 

हुनर हाट की खास चीजें जिन्हें जानना है बहुत ज़रूरी 

वैसे तो हुनर हाट मुंबई, हैदराबाद, लखनऊ जैसे महानगरों में आयोजित होने के बाद देश की राजधानी दिल्ली में आयोजित किया जा रहा है, इस हुनर हाट मेले में देश के अलग-अलग हिस्सों से छोटे-मोटे शिल्पकार, हस्तशिल्पी, कारोबारी व चटपटे स्वादिष्ट खाद्य पदार्थों को बना कर दो वक्त की रोटी कमाने वाले लोग अपने हुनर से लोगों का दिल जीत रहे हैं, चाहे चटपटी चाट की बात कीजिए या कूल्हड़ की मीठी चाय जुबां पर लगते ही अंतरंग मन को खुश कर जाती है।

हुनर हाट से खरीदें अद्भुत कलाकारियों का नमूना

राजधानी दिल्ली के हुनर हाट में जिन अद्भुत कलाकृतियों का समागम है, जैसे चीनी मिट्टी से बने अकल्पनीय बर्तन शायद ही अन्य बाजारों में उपलब्ध हों, साथ ही हुनर हाट में पेंटिंग्स की पेशकश कुछ यूं है कि अगर आप खरीद कर घर में लगाते हैं, तो महसूस होगा की तस्वीरें बात कर रही हैं, इस हाट में तकनीकों की कमी भी नहीं है, मिट्टी के बर्तन अधिकतर आपने चाक पर बनते देखे होंगे लेकिन मशीन से मिट्टी को ढालकर बर्तन बनाने का जादू आपको हुनर हाट में ही देखने को मिलेगा।

हुनर हाट के प्रोत्साहन से मिल रहा लाखों को रोजगार

भारत की अर्थव्यवस्था जिस प्रकार से डामाडोल है ऐसे में सरकार की यह पहल एक नई ऊर्जा इन कारोबारियों में पैदा कर रही है, हमने कारोबारियों से बात की तो जाना कि यह 'मौका मार्केट' से मिला प्रोत्साहन उन्हें कितना कुशल और कौशल बना रहा है।केंद्रीय अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि यह हुनर हाट राजधानी दिल्ली के बाद रांची और उसके बाद देश के अन्य शहरों में भी आयोजित किया जाएगा। उन्होंने कहा ऐसे हुनर हाट के आयोजनों से लगभग 2.5 लाख से भी अधिक रोजगार के अवसर अदा करने का सफल प्रयास किया जाएगा।

हुनर हाट में प्रधानमंत्री मोदी के आने के बाद लोगों का हुजूम

दिल्ली में हुनर हाट का आयोजन 13 से 23 फरवरी तक किया जाना है, लेकिन शुरुआत के दिनों में लोगों के बीच इस हाट की लोकप्रियता नहीं पहुंच सकी थी, जिसके परिणाम स्वरूप लोगों का आना-जाना कम रहा  लेकिन बुधवार 19 फरवरी को प्रधानमंत्री मोदी के अचानक हुनर हाट पहुंचने से लोगों का ध्यान इस ओर आकर्षित हुआ। ठीक उसके अगले दिन ही हुनर हाट की दुकानों का द्वार ग्राहकों से खचाखच भर गया।

हुनर हाट को प्रोत्साहित करने पहुंचे उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू 

प्रधानमंत्री मोदी के बाद हुनर हाट को उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू का प्रोत्साहन मिला।यह बात बिल्कुल वाजिब है कि विश्व के उम्दा नेताओं में शुमार प्रधानमंत्री मोदी के कदम से कदम मिलाकर इस हाट को प्रोत्साहन देना और इस प्रोत्साहन को स्वीकार करते हुए देशवासियों को इसमें भाग लेकर देश की उन्नति को बढ़ावा देना उत्साहवर्धक है।भारत सरकार की इस तरह की पहल से लगातार लोगों को रोजगार मिलता रहा तो भारत को विश्वगुरु बनते देर नहीं लगेगी।