ALL political social Entertainment health tourism crime religious Sports National Other State
दंगा फैलानेवालों पर चलेगा मर्डर का केस : पुलिस कमिश्‍नर
March 1, 2020 • Geeta Bisht & Dr. Naresh Kumar Choubey • crime

नई दिल्‍ली। दिल्‍ली में नए पुलिस कमिश्‍नर ने शनिवार को कार्यभार संभाला। कार्यभार संभालते हुए एसएन श्रीवास्‍तव ने दिल्‍ली हिंसा के प्रति अपने तेवर से जता दिया है कि किसी भी सूरत में हिंसा फैलाने वाले को छोड़ा नहीं जाएगा। उन्‍होंने अमूल्‍य पटनायक से कार्यभार लेते हुए कहा कि हम दंगाइयों के खिलाफ हत्‍या का केस दर्ज करेंगे।

शांति और सद्भाव वापस लाना पहली प्राथमिकता

नए पुलिस आयुक्‍त एसएन श्रीवास्तव ने कहा कि हमारी प्राथमिकता है कि शहर में शांति और सांप्रदायिक सद्भाव वापस आए। दंगाइयों के खिलाफ हत्‍या का मामला दर्ज कर उनकी गिरफ्तारी हो रही है। इससे वह दोबारा ऐसा करने की हिम्मत न कर सकेंगे।

शनिवार को रिटायर हुए अमूल्‍य पटनायक

बता दें कि दिल्ली पुलिस के नए मुखिया वरिष्ठ आइपीएस सच्चिदानंद श्रीवास्तव एक मार्च से अपना कार्यभार संभाल लिया है। इसकी जानकारी गृह मंत्रालय ने शुक्रवार को ही जारी कर दी थी। वर्तमान पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक शनिवार को सेवानिवृत्त हो रहे हैं।

37 महीने का रहा अमूल्‍य पटनायक का कार्यकाल

अमूल्‍य पटनायक का कार्यकाल करीब 37 महीने तक का रहा। पटनायक को दिल्‍ली चुनाव के कारण सेवा विस्‍तार दिया गया था क्‍योंकि उनका कार्यकाल 31 जनवरी तक ही था।अमूल्य पटनायक व एसएन श्रीवास्तव दोनों यूटी (संघीय क्षेत्र) कैडर के 1985 बैच के आइपीएस अफसर हैं।

चर्चा का विषय बना सीधे आदेश जारी न करना

इधर, एसएन श्रीवास्तव को आयुक्त बनाने संबंधी आदेश सीधे जारी न कर अतिरिक्त कार्यभार सौंपे जाने संबंधी आदेश शुक्रवार को महकमे में चर्चा का विषय रहा। माना जा रहा है कि श्रीवास्तव का डिपार्टमेंट ऑफ पर्सनल एंड ट्रेनिंग, सेंट्रल विजिलेंस व खूफिया विभाग से क्लीयरेंस में कुछ दिक्कत आने की वजह से उन्हें सीधे तौर पर आयुक्त की जिम्मेदारी नहीं सौंपी गई है।

इधर, यमुनापार में नागरिकता संशोधन कानून के मुद्दे पर भड़की हिंसा के बाद पांचवें दिन कुछ प्रभावशील इलाकों की मार्केट खुलने लगी हैं। धीरे-धीरे उत्तर पूर्वी दिल्ली की मार्केट अपने पुराने मिजाज पर वापस लौटती दिख रही है। लोग भी डर को किनारे कर खरीदारी के लिए पहुंच रहे हैं। जल्द ही उत्तर पूर्वी दिल्ली की मार्केट में पहले की तरह रौनक देखने को मिलेगी। इसी क्रम में दयालपुर, मौजपुर, बाबरपुर सहित अन्य प्रभावशील इलाकों में मार्केट खुलने लगी है।

हिंसा के दौरान दंगाइयों के डर से पिछले कई दिनों से मार्केट में दुकानें बंद हो गई थी। लोगों की समस्याओं व दुकानदारों का डर निकालने के लिए सभी प्रभावशील इलाकों में पुलिस ने शांति मार्च निकाला। कुछ प्रभावशील इलाकों में कुछ मार्केट खुलने लगी है, लोग भी खरीदारी के लिए दुकानों पर पहुंच रहे हैं। जैसे-जैसे दुकानदारों का डर निकल रहा है वैसे-वैसे दुकानों की रौनक भी लौटने लगी है। अर्धसैनिक बल भी मार्केट में पूरी तरह तैनात हैं। चप्पे-चप्पे पर नजर रखी जा रही है।