ALL political social Entertainment health tourism crime religious Sports National Other State
चुनावी नतीजों के बाद लगेगा टुकड़े-टुकड़े गैंग को झटका : अमित शाह
February 7, 2020 • Geeta Bisht & Dr. Naresh Kumar Choubey • political

एल.एस.न्यूज नेटवर्क, नयी दिल्ली। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने बृहस्पतिवार को आरोप लगाया कि संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ शाहीन बाग में हो रहा प्रदर्शन ‘‘आप’’ और कांग्रेस का संयुक्त उपक्रम है। उन्होंने दावा किया कि जब चुनाव नतीजे घोषित होंगे तब ‘‘टुकड़े-टुकड़े गैंग’’ को झटका लगेगा।’’ दिल्ली विधानसभा चुनाव प्रचार के आखिरी दिन तीन रोड शो के दौरान समर्थकों को संबोधित करते हुए शाह ने कहा कि इस चुनाव में भाजपा विजेता के रूप में सामने आएगी क्योंकि लोग देश की सुरक्षा, विकास और सुशासन के पक्ष में मतदान करेंगे। हरिनगर में शाह ने ‘‘ जय श्री राम’’ के नारों के बीच रोड शो किया। इस दौरान कुछ लोगों ने ‘‘गोली मारो’’ के नारे लगाए। हालांकि, पुलिस ने उन्हें ऐसा करने से मना किया।  केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा, ‘‘शाहीनबाग आम आदमी पार्टी (आप) और कांग्रेस का संयुक्त उपक्रम है। केजरीवाल और राहुल गांधी का कहना है कि शाहीनबाग की चर्चा नहीं होनी चाहिए और इसलिए चिंतित हैं। मैं उनसे पूछना चाहता हूं कि देश की सुरक्षा क्यों चुनावी मुद्दा नहीं होना चाहिए? क्यों शाहीनबाग में बैठे लोग ‘‘ जिन्ना वाली आजादी’’ की मांग कर रहे हैं और क्यों टुकड़े-टुकड़े गैंग उनका समर्थन कर रहे हैं? 

शाह ने उत्तर-पूर्व दिल्ली के सीमापुरी विधानसभा क्षेत्र में आयोजित रोड शो में कहा, ‘‘ इन लोगों पर धिक्कार है। मैं आप सभी से कहना चाहता हूं कि टुकड़े-टुकड़े गैंग को झटका लगेगा क्योंकि आप आठ फरवरी को दिल्ली और देश के विकास के लिए कमल के निशान पर बटन दबाने जा रहे हैं।’’ बाद में पश्चिमी दिल्ली के हरिनगर विधानसभा क्षेत्र में पार्टी प्रत्याशी तेजिंदर पाल सिंह बग्गा के समर्थन में आयोजित रोड शो को संबोधित करते हुए शाह ने कहा, ‘‘ याद कीजिए कि एक साल पहले पुलवामा में आतंकवादी हमला हुआ था और हमारी सेनाओं ने एयर स्ट्राइक कर इसका बदला लिया था।’’ उन्होंने कहा, ‘‘आप जानते हैं कि दिल्ली की जनता और पूरा देश सेना के पराक्रम को सलाम कर रहा था लेकिन क्या आप जानते हैं इससे कौन दुखी था? पहला राहुल गांधी, दूसरा अरविंद केजरीवाल और तीसरा, पाकिस्तान में बैठे इमरान खान।’’ शाह ने कहा कि केजरीवाल, राहुल गांधी और इमरान खान को सर्जिकल स्ट्राइक से समस्या थी। उन्होंने कहा, ‘‘इन तीनों को सर्जिकल स्ट्राइक से समस्या थी। मैं पूछना चाहता हूं कि क्या ऐसे लोगों के हाथों में दिल्ली की सत्ता सौंपनी चाहिए? ये लोग देश की सुरक्षा के लिए बहुत खतरनाक है।’’ 

गृहमंत्री ने कहा, ‘‘वहीं दूसरी ओर केंद्र सरकार आवास, गैस कनेक्शन और लोगों को मौलिक सुविधाएं मुहैया कराकर लगातार लोकहित का काम कर रही है। उन्होंने केजरीवाल नीत दिल्ली सरकार पर वादों को पूरा करने में नाकाम रहने का आरोप लगाया। उन्होंने दावा किया कि पांच साल में कोई काम नहीं हुआ। गृहमंत्री ने कहा, ‘‘ केजरीवाल ने पांच साल में कोई काम नहीं किया। उन्होंने 500 स्कूल और 50 कॉलेज, पांच हजार बसे बेड़े में जोड़ने के वादे किए थे। यहां तक कि उन्होंने कहा था कि दिल्ली को लंदन बनाएंगे।’’ शाह ने कहा, ‘‘आज यह फर्क करना मुश्किल है कि सड़क में गड्ढे हैं या गड्ढों में सड़क है। इसके विपरीत वह केंद्र सरकार की योजनाओं का लाभ भी दिल्ली के लोगों को लेने नहीं दे रहे हैं।’’ उन्होंने दावा किया कि केजरीवाल दिल्ली में आयुष्मान भारत योजना लागू करने नहीं दे रहे हैं।