ALL political social Entertainment health tourism crime religious Sports National Other State
AAP में सबसे अधिक 42 तो भाजपा के 26 उम्मीदवारों के खिलाफ आपराधिक मामले
February 6, 2020 • Geeta Bisht & Dr. Naresh Kumar Choubey • political

नयी दिल्ली। दिल्ली विधानसभा चुनाव की 70 सीटों के लिए 8 फरवरी को मतदान होने वाले हैं और 11 फरवरी दिन मंगलवार को चुनाव परिणाम घोषित होंगे। मतदान से पहले एक दिलचस्प आंकड़ा सामने आया है, जिसमें बताया गया है कि कौन सी पार्टी के कितने आपराधिक नेता चुनाव में अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। हालांकि कुल 672 उम्मीदवार हैं जो चुनाव लड़ रहे हैं।

 

एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स ने जो आंकड़े जारी किए हैं उसके मुताबिक आपराधिक मामलों में शामिल 133 उम्मीदवार ऐसे हैं जो चुनाव लड़ रहे हैं और इनमें से 104 उम्मीदवारों पर तो गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं और इस बात की जानकारी तो खुद उम्मीदवार नामांकन पत्र दाखिल करते समय देता है।

कौन सी पार्टी में हैं कितने उम्मीदवार

सत्ताधारी पार्टी यानी की आम आदमी पार्टी ने सभी 70 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं। इन 70 उम्मीदवारों में 42 उम्मीदवार ऐसे हैं जिनके खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज है। इन्हीं आंकड़ों को अगर हम ध्यान से देखें तो 42 उम्मीदवार में से 36 उम्मीदवार ऐसे हैं जिन पर गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं।

 

वहीं, भाजपा के 67 उम्मीदवारों में से 26 के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं जबकि इन्हीं 26 में से 17 उम्मीदवार ऐसे हैं जिन के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं। बसपा के कुल 66 में से 12 उम्मीदवारों पर कांग्रेस के 66 में से 18 उम्मीदवारों पर और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के 5 में से 3 उम्मीदवार के खिलाफ मामले चल रहे हैं।

लेकिन जब हम निर्दलीय उम्मीदवारों की बात करते हैं तो आंकड़ा बेहद कम जान पड़ता है। 398 निर्दलीय उम्मीदवार भाजपा-कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के दिग्गज नेताओं के खिलाफ अपनी किस्मत आजमा रहे हैं लेकिन इन 398 निर्दलीय उम्मीदवारों में से सिर्फ 32 उम्मीदवार ही ऐसे हैं जिनके खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं।