ALL political social Entertainment health tourism crime religious Sports National Other State
8 फरवरी के बाद शाहीन बाग बन सकता है जलियांवाला बाग : ओवैसी
February 6, 2020 • Geeta Bisht & Dr. Naresh Kumar Choubey • political

एल.एस.न्यूज नेटवर्क, नयी दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ दिल्ली के शाहीनबाग में हो रहे विरोध-प्रदर्शनों को लेकर एआईएमआईएम नेता और हैदराबाद सांसद असदद्दीन ओवैसी का बड़ा बयान दिया है। ओवैसी ने कहा कि सरकार 8 फरवरी के बाद शाहीन बाग से प्रदर्शनकारियों को हटाने के लिए सुरक्षा बलों का प्रयोग कर सकती है। आवैसी यहीं नहीं रूके बल्कि उन्होंने मोदी सरकार की मंशा पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि सरकार प्रदर्शनकारियों को गोली मार दे और शाहीन बाग को जलियांवाला बाग में बदल दे। गौरतलब है कि दिल्ली के शहीन बाग में नागरिकता कानून के खिलाफ 50 से ज्यादा दिनों से महिलाएं प्रदर्शन कर रही हैं।

 

बता दें कि अमृतसर में हुए 13 अप्रैल 1919 को 50 ब्रिटिश सैनिकों ने निहत्थे भारतीयों पर गोलियां चलाई थी, जिसमें हजारों लोग मारे गए थे। जिसे जालियांवाला बाग नरसंहार के नाम से जाना जाता है। ओवैसी ने केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने 'गोली मारों' वाले बयान का संदर्भ देते हुए शाहीन बाग को जलियांवाला बाग बनाए जाने की आशंका व्यक्त की। गौरतलब है कि हाल ही में चुनावी सभा के दौरान दिल्ली में अनुराग ठाकुर के मंच से नारे लगवाए थे- देश के गद्दारों को... गोली मारों...'। अनुराग ठाकुर ने यह भी कहा था कि जब 8 फरवरी के चुनाव में बीजेपी जीत कर दिल्ली की सत्ता में आएगी तो शाहीनबाग को खाली करा दिया जाएगा।